Pyar Hua Chupke Se

by Kavita Krishnamurthy

Kavita Krishnamurthy, also referred to as Kavita Subramaniam, is an Indian film playback singer. Trained in classical music, Kavita Krishnamurthy has recorded more than 18,000 songs in 16 languages in a career span of 30 years. Working with almost all the music composers including Laxmikant–Pyarela…




दिल ने कहा चुपके से
ये क्या हुआ चुपके से

आ आ आ आ आ आ
क्यों नये लग रहें है ये धरती गगन
मैंने पूछा तो बोली ये पगली पवन
प्यार हुआ चुपके से
ये क्या हुआ चुपके से
क्यों नये लग रहें है ये धरती गगन
मैंने पूछा तो बोली ये पगली पवन
प्यार हुआ चुपके से
ये क्या हुआ चुपके से
तितलियों से सुना आ
तितलियों से सुना
मैंने किस्सा बाग का
बाग में थी एक कली
शर्मीली अनछुई एक दिन
मनचला हो भँवरा आ गया
खिल उठी वो कली पाया रूप नया
पूछती थी कली के मुझे क्या हुआ
फूल हसा चुपके से
प्यार हुआ चुपके से

मैंने बादल से कभी
ओ मैंने बादल से कभी
ये कहानी थी सुनी
पर्वतों की एक नदी
मिलने सागर से चली
झूमती घूमती
हो नाचती डोलती
खो गयी अपने सागर में जाके नदी
देखने प्यार की ऐसी जादूगरी
चाँद खिला चुपके से
प्यार हुआ चुपके से
क्यों नये लग रहें है ये धरती गगन
मैंने पूछा तो बोली ये पगली पवन
प्यार हुआ चुपके से
ये क्या हुआ चुपके से
क्यों नये लग रहें है ये धरती गगन
मैंने पूछा तो बोली ये पगली पवन

दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (आ आ आ आ)

दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना)
दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना (दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना दुरुना)

Written by: JAVED AKHTAR, RAHUL DEV BURMAN

Lyrics © Royalty Network

Lyrics Licensed & Provided by LyricFind

© Lyrics.com